बीकानेर: मोदी सरकार के मंत्रिमंडल विस्तार में केंद्रीय मंत्री अर्जुनराम मेघवाल का कद बढ़ने की उम्मीद से फूल माला लेकर दिल्ली पहुंचे। उनके समर्थक वापस बीकानेर लौट आए। मेघवाल का राज्य मंत्री से कैबिनेट मंत्री के रूप में पदोन्नति करने के अथवा बड़ा मंत्रालय मिलने की उम्मीद से समर्थक दिल्ली गए थे। उधर केंद्रीय मंत्री अर्जुनराम मेघवाल ने गुरुवार को दिल्ली में शास्त्री भवन स्थित केंद्रीय संस्कृति मंत्रालय में संस्कृति राज्य मंत्री का पदभार ग्रहण किया। मंत्रिमंडल विस्तार में केंद्रीय संसदीय कार्य राज्य मंत्री अर्जुनराम मेघवाल को लेकर कुछ खबरों में उनका कद बढ़ने के कयास लगाए जा रहे थे। पांडुचेरी चुनाव में प्रभारी के रूप में भी अर्जुन राम ने मेहनत कर अच्छे परिणाम दिए थे इसके चलते बुधवार को बीकानेर से करीब तीन हजार तीन से चार दर्जन से अधिक अर्जुनराम समर्थक दिल्ली पहुंच गए हालांकि शाम 6: बजे जब नए मंत्री और पदोन्नति मिलने वाले मंत्रियों की तस्वीरें साफ हुई तो अर्जुनराम मेघवाल का नाम उसमें नहीं होने से समर्थक निराश हो गए। उन्हें संसदीय कार्य मंत्री के साथ संस्कृति संस्कृति मंत्रालय के राज्यमंत्री का पद भी ही मिला ऐसे में समर्थकों का दिल्ली से अपने नेता का फूल मालाओं से स्वागत करने की मंशा पूरी नहीं हो पाई। अधिकांश समर्थक रात को ही वापस बीकानेर के लिए रवाना हो गये। वही दिल्ली से बीकानेर लोटे केंद्रीय मंत्री मेघवाल के समर्थकों ने कहा की उम्मीद के मुताबिक भले ही पदोन्नति नहीं मिली लेकिन जो मंत्रालय मिला वह अच्छा है उन्होंने कहा कि केंद्रीय मंत्री मेघवाल का हमेशा से कला और संस्कृति से गहरा जुड़ाव रहा है। कबीर यात्रा जैसे आयोजन में वे खुद कबीर वाणी गाते नजर आये हैं ऐसे में उनकी पसंद के मंत्रालय का प्रभार मिला है बीकानेर क्षेत्र के लोग भी कला और संस्कृति से गहरा जुड़ाव रखते हैं। ऐसे में क्षेत्र को फायदा मिलेगा। मोदी से नजदीकी की नई दिखी झलक केंद्रीय मंत्री अर्जुनराम अक्सर मीडिया में प्रधानमंत्री मोदी के इर्द-गिर्द नजर आते हैं इसकी एक वजह संसदीय कार्य राज्यमंत्री होना भी है फिर भी मोदी के साथ अर्जुनराम की नजदीकि को लेकर कयास लगाते रहते हैं। मंत्रियों के पोर्टफोलियो सामने आने पर मोदी से नजदीक की झलक इसमें नहीं दिखी।