बीकानेर। बीकानेर अपनी कला और संस्कृति के बारे में जाना जाता है। और यहां पर अपनी कला से भी लोग सभी का मन मोह लेते है। बीकानेर की 13 साल की कम उम्र में ही तमन्ना ने भी मुहिम छेड़ी उसी के तहत अब तमन्ना कम समय के अंदर कई तरह के साफे बांध देती है। अपने पिता को साफा बांधते देखकर उसके मन मे आया कि वो भी साफा बांधे। अपनी बच्ची की ख्वाईश को पूरा कर ने के लिए पिता मुमताज ने उसे साफा बांधना सिखाया और 15 दिन में तमन्ना अब अलग अलग तरह के साफे आंख पर पट्टी बांधकर बना देती है। तमन्ना का कहना है कि लड़कियां भी हर काम को कर सकती हे। इसके साथ ही राजस्थान के कल्चर को सभी जगह पहुंचाने के लिए उन्होंने साफा बंधना सीखा है राजस्थान में कलाकारों की कमी नही है। और अपने कल्चर को सभी के सामने पहुंचाने के लिए ये कलाकार बहुत मेहनत भी कर रहे है। बीकानेर की 13 साल की तमन्ना 1 मिनेट में ही अलग अलग तरह के साफे बांध लेती है। जिस उम्र में खेलने की तमन्ना बच्चो में होती है वहा पर तमन्ना अपनी संस्कृति को आगे बढ़ाने का काम कर रही है। तमन्ना के पिता बताते है कि बच्ची की खवाइश थी कि वह भी साफा बंधे और उसकी इस तमन्ना को को पूरा करने का प्रयास किया जा रहा है

 

 

 

राजस्थान की गंगाशाही जोधपुरी शेखावाटी जैसलमेरी गुजराती मेवाड़ी पाग बांधती है आने वाले समय में तमन्ना की तमन्ना है कि वह राजस्थान की विभिन्न तरह की पगड़ीया हाथ की अंगुलियों पर बांधना सीखें तमन्ना बीकानेर जिले कि महारानी किशोरी देवी स्कूल में अध्ययनरत है करोना काल में स्कूली शिक्षा से वंचित रहने के कारण अपने पिताजी से यह हुनर सीखा यह हुनर इनके परिवार से पीढ़ियों से परंपरागत रूप से चला रहा है इस सांस्कृतिक कला को आगे बढ़ाने के लिए तमन्ना ने यह हुनर अपने पिता जी से सीखा है तमन्ना ने बताया है साफा सीखना शुरुआत में थोड़ा कठिन लगा बाद में सब परिस्थिति नॉर्मल हो गई वह चाहती है कि महिलाएं वह लड़कियां इस काम में आगे आए तमन्ना ने बताया है की ऐसा कोई काम नहीं है जो की सिर्फ पुरुष ही कर सके वह काम महिलाएं भी कर सकती है तमन्ना ने बीकानेर ही नहीं बल्कि पूरे राजस्थान को गौरवान्वित किया है तमन्ना ने बताया है की राजस्थान की सांस्कृतिक धरोहर को बचाने के लिए वह सांस्कृतिक कला को बढ़ावा देने के लिए यह हुनर उसने अपने पिताजी से सीखा इनके पिताजी आप मुमताज अली मीर जो इनकी पुत्री तमन्ना मीर अंतर्राष्ट्रीय ऊंट महोत्सव में कई बार प्रदर्शन कर चुकी है