बीकानेर। अन्तर्राष्ट्रीय पुष्करणा ब्राह्मण समाज ट्रस्ट द्वारा धरणीधर रंगमंच में दो दिवसीय वस्त्र उद्योग प्रशिक्षण की क ार्यशाला का समापन हुआ। इस दौरान राजस्थान प्रशासनिक सेवा में चयनित हुए समाज के युवा अरविन्द आचार्य,सुनील व्यास,ललित छंगाणी का सम्मान किया गया। जिन्हें पूर्व आरएएस मनमोहन व्यास व उद्योगपति रामकिशन चांडा ने प्रशस्ति पत्र व स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया। इस मौके पर व्यास ने कहा कि नवचयनित आरएएस को निष्ठा व ईमानदारी से काम करने की सीख देते हुए राष्ट्र निर्माण में अपना योगदान देने का आह्वान किया। व्यास ने कहा कि इस प्रकार के औद्योगिक प्रशिक्षण कार्यशाला समय समय पर होने चाहिए ताकि स्वरोजगार के अवसर जुट सकें और युवा स्वावलंबी बन सके। विशिष्ट अतिथि पार्षद सुधा आचार्य ने कहा कि कोरोना काल जैसे विकट समय में हर एक प्रभावित हुआ है। जिसने सभी की आर्थिक कमर तोड़ दी। अगर हम घरेलू उद्योगों को बढ़ावे दे तो निश्चित रूप से आत्मनिर्भर बन सकते है। क ार्यक्रम के दौरान शास्त्री प्रभू जोशी ने कहा कि ट्रस्ट की ओर से पूर्व में वैवाहिक परिचय सम्मेलन और रोजगार मेले का आयोजन किया जा चुका है और अब औद्योगिक प्रशिक्षण जैसी कार्यशालाएं आयोजित कर समाज के युवाओं व महिलाओं को स्वावलंबी बनाया जाएगा। कार्यक्रम में जे पी व्यास,नरेंद्र बोड़ा,चंद्रेश पुरोहित,मोतीलाल थानवी,मनोज देराश्री,उत्तम व्यास,जुगल किशोर छंगाणी,संतोष पुरोहित आदि उपस्थित रहे। प्रशिक्षण कार्यशाला में वस्त्र उद्योग पर आधारित 21 प्रकार के व्यापार वस्त्र वयवसाय की कार्य करने संभावनाओं पर प्रकाश डाला। कार्यशाला में महिलाओं व अन्य समाजिय लोगों ने खरीदारी भी की।