नई दिल्ली। दिल्ली कार्यालय में केंद्रीय जल मंत्री गजेंद्र सिंह के साथ राजस्थान भाजपा के माननीय अध्यक्ष श्री सतीश पूनिया जी, माननीय केंद्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल जी, केंद्रीय राज्य मंत्री कैलाश चौधरी जी और सांसद श्री निहालचंद जी से राजस्थान में पंजाब के सीमावर्ती क्षेत्रों से आ रहे दूषित जल के विषय पर गहन विचार- विमर्श हुआ। यह आम शिकायत है कि पंजाब से दूषित जल नहरों के माध्यम से राजस्थान पहुंच रहा है, जो जन-धन दोनों के लिए हानिप्रद है। निश्चित ही यह गंभीर परेशानी है। इस संदर्भ में अधिकारियों को सारी जानकारियां एकत्र कर आगे की कार्यवाही करने के दिशा निर्देश दिए। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की टीम पंजाब जा कर यथास्थिति का ब्यौरा दर्ज कर एक हफ़्ते में रिपोर्ट देगी और भाखड़ा ब्यास प्रबंधन बोर्ड अपशिष्ट जल का प्रबंधन करने की योजना बनाएगा। उद्देश्य समस्या का स्थायी व जनहितकारी निदान है।