कानपुर। देश में कोरोना महामारी की एंट्री के बाद मास्क को सरकार ने अनिवार्य कर दिया। जिसके बाद वायरस से बचाव के लिए पहना जानें वाला मास्क भी ट्रेंडिंग हो गया। आपने अभी तक कपड़े के मास्क के बारे सुना होगा, देखा होगा या पहना होगा लेकिन क्या आपने कभी सोने के मास्क के बारे सुना है। जी, हां सोने का मास्क जिसे लाखों रूपये देकर कानपुर के गोल्डन बाबा ने कोरोना से रक्षा के लिए बनवाया है।जानिए इस मास्क के बारे में कानपुर के गोल्डन बाबा ने लगभग 5 लाख रुपए तक का सोने का कीमती मास्क पहना है जो लोगों के लिए आकर्षण का केंद्र बना हुआ है।गोल्डन बाबा के इस सोने की मास्क का वजन लगभग 101 ग्राम 5 रत्ती है।बाबा ने यह मास्क कोरोना महामारी से खुद को बचाने के लिए पहना है। बाबा कानपुर के काकादेव इलाके के रहने वाले और इनका असली नाम मनोज सेंगर उर्फ मनोजानंद महाराज है। लोग इन्हें गूगल गोल्डन बाबा के नाम से भी जानते है। गोल्डन बाबा का दावा है कि यह मास्क ट्रिपल लेयर मास्क है और यह कोरोना के बैक्टीरिया से उनकी रक्षा भी करता है. इस मास्क को गोल्डन बाबा ने ” शिव स्वर्ण रक्षक कोरोना मास्क ” का नाम दिया है। गोल्डन बाबा का कहना है कि यह मास्क तीन सालों तक बैक्टीरिया से उनकी रक्षा करने में सक्षम है।बाबा ने इस मास्क को धारण करने से पहले उसकी पूजा अर्चना भी की टीका लगाया और फिर इसे धारण किया। मिली जानकारी के अनुसार इस मास्क की रचना मुंबई के कारीगरों ने किया है। इन्हें सोना पहनने का बहुत शौक है तभी तो बाबा ने लगभग 2 किलो सोना अपने गले में पहन रखा है।