बीकानेर,जिला कलक्टर नमित मेहता ने कहा कि बीस सूत्री कार्यक्रम के अंतर्गत अनेक ऐसी योजनायें संचालित की जा रही हैं, जिसका लाभ आम व्यक्ति को दिलाकर विकास की मुख्य धारा से जोड़ते हुए उनका आर्थिक और सामाजिक विकास किया जा सकता है।

मेहता सोमवार को कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित बीस सूत्री कार्यक्रम के तहत आवंटित लक्ष्यों की प्रगति की समीक्षा बैठक में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि ग्रामीण व शहरी क्षेत्र में बीस सूत्री कार्यक्रम के तहत पात्र लोगों को लाभ दिलाने के लिए विभागों को लक्ष्य दिए है। संबंधित विभाग समय रहते हुए पात्र लोगों को योजनाओं का लाभ दिलाए। उन्होंने कहा कि जिन लोगों को योजनाओं का लाभ मिला है, उसका  का सत्यापन करवाया जाए।
जिला कलक्टर ने सभी को शुद्ध पेयजल उपलब्ध हो, इसके लिए जलजीवन मिशन के तहत लक्षित धरों में पानी का कनेक्शन देने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जनस्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग इस कार्य को सर्वोच्च प्राथमिता दे। उन्होंने जन-जन को स्वास्थ्य की समीक्षा की और निर्देश दिए कि संस्थागत प्रसव को प्रोत्साहित किया जाए। उन्होंने कहा कि प्राइवेट चिकित्सालयों में होने वाले प्रसव की संख्या की गणना भी की जाए। उन्होंने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी और डीएफओं को लक्ष्य के अनुरूप प्रगति नहीं किए जाने पर कारण बताओं नोटिस दिए जाने के निर्देश दिए।
15 सूत्री की बैठक- जिला कलक्टर मेहता ने जिले को 15 सूत्री कार्यक्रम के तहत आवंटित लक्ष्यों की समीक्षा की और अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जिन विद्यालयों में  25 प्रतिशत अल्प संख्यक विद्यार्थी है, उनमें अतिरिक्त कक्षा-कक्ष पीएमजेवीके योजना के तहत बनाने का प्रावधान है। उन्होंने मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी को निर्देश दिए कि वे इस संबंध में जानकारी कर, विद्यालयों में अतिरिक्त कक्षा-कक्ष बनवाने के प्रस्ताव भिजवाए। उन्होंने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को भी निर्देश दिए जिन स्वास्थ्य केन्द्रों में अतिरिक्त रूम की जरूरत है, उसके  प्रस्ताव जिला अल्प संख्यक अधिकारी कार्यालय को भेजे। उन्होंने मदरसों में विद्यार्थियों की शिक्षा, संसाधन, छात्रवृति, मदरसों के आधुनिकीकरण आदि सहित संबंधित विभागों द्वारा संचालित योजनाओं, कार्यक्रम के भौतिक व वित्तीय लक्ष्यों की समीक्षा की।
बैठक में जिला अल्प संख्यक कल्याण अधिकारी शहजाद ने विभागीय गतिविधियों की जानकारी दी। बैठक में अतिरिक्त जिला कलक्टर (नगर) अरूण प्रकाश शर्मा, जिला रसद अधिकारी यशवंत भाकर, जिला रसद अधिकारी ग्रामीण भागुराम मेहला, उपनिदेशक सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग  एल.डी.पंवार, आरसीएचओ डॉ.राजेश गुप्ता सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

—–