बीकानेर,ह्रदय से आभारी हूं जिला क्रिकेट संघ के समस्त पदाधिकारियों के जिन्होंने मेरे दिवंगत पति “श्री दुर्गा शंकर आचार्य” को इतना मान सम्मान दिया की एक टीम का नामकरण ही उनके नाम से कर दिया मेरे पति श्री दुर्गाशंकर आचार्य,जिन्होंने संपूर्ण जीवन नि:स्वार्थ भाव से अपना समय क्रिकेट जगत को दिया,जो खिलाड़ी के रुप में एक श्रेष्ठ विकेटकीपर थे, तो श्रेष्ठ अंपायर भी थे, एक उनकी रग रग में क्रिकेट बसा हुवा था,प्रतिपल क्रिकेट के बारे में सोचते थे और अस्पताल जाने से 1 दिन पहले तक वह क्रिकेट की फाईले निपटा रहे थे आज जिला क्रिकेट संघ ने जो मान सम्मान दिया है, शब्दों में चित्रित नहीं किया जा सकता जब मैंने  जो अंतरात्मा को छूने वाला था,नम आंखो से मैं समाचार पढ रही थी, जिला क्रिकेट संघ के सर्वश्री अशोक ओहरी, कमल गोस्वामी,रतन सिंह शेखावत, प्रवेश भारद्वाज,शंकर सेवक, चंदू पणिया, अनिल सिडाना, प्रवेश भारद्वाज,अफरोज खान, रफीक भाटी,राजेंद्र झाम्ब, कैलाश चौधरी, गोपेश वशिष्ठ, कैलाश पूनिया,पंकज माथुर,सुनील आचार्य, दिनेश विश्नोई की, एक बार पुनश्च जिला क्रिकेट संघ का हृदय की गहराइयों से हार्दिक आभार