बीकानेर,सामाजिक रूढ़ियों को तोड़ बेटी ने बेटे का फर्ज निभाया। बेटी ने अपने पिता की अर्थी को न सिर्फ कंधा दिया बल्कि मुखाग्नि देकर अंतिम संस्कार भी किया।बीकानेर निवासी अनिल मुंजाल का 65 वर्ष की उम्र में निधन हो गया था उनका अंतिम संस्कार बीकानेर स्थित परदेशियो की बगेची में अंतिम संस्कार किया गया।

उनकी दो बेटियां हैं। गमगीन माहौल में उनकी बड़ी बेटी तनु ने शव यात्रा के दौरान पहले अपने पिता की अर्थी को कंधा दिया और उसके बाद शमशान घाट जाकर गमगीन माहौल में मुखाग्नि दी। रोडवेज मैं अधिकारी के पद से रिटायर हुए थे और कुछ दिनों से बीमार चल रहे थे।