पदमपुर में भाजपा विधायक एवं महिला कार्यकर्ताओं पर अभद्रता व्यवहार हाथापाई व अश्लीलता किये जाने पर जांच कर शक्त कार्यवाही करने की मांग!

 

बीकानेर दिनांक 15 जुलाई 2021 को आज भाजपा बीकानेर देहात एवं शहर द्वारा अलग अतिरिक्त संभागीय आयुक्त सुनीता चौधरी को राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा जिसमें भाजपा देहात जिलाध्यक्ष ताराचंद सारस्वत भाजपा शहर जिलाध्यक्ष अखिलेश प्रताप सिंह महामंत्री कुम्भाराम सिद्ध जिलामंत्री देवीलाल मेघवाल भाजयुमो जिलाध्यक्ष जसराज सिवर अरविंद चारण फैयाज हुसैन रविन्द्र जाजड़ा प्रदीप सारस्वत दिनेश ओझा सहित अनेक भाजपा पदाधिकारी व कार्यकर्ताओं द्वारा नारेबाजी करते हुए संभागीय आयुक्त कार्यालय पहुंचे राजपाल के नाम ज्ञापन सौंपा। मांग की पदमपुर श्रीगगानगर में भाजपा विधायक एवं महिला कार्यकर्ताओं पर पुलिस की उपस्थिति कुछ उपद्रवियों ने अभद्र व्यवहार हाथापाई गाली-गलौज व अश्लीलता किये जाने वाले व्यक्तियों की जांच कर सक्त कार्यवाही करने की मांग!

जिलाध्यक्ष ताराचंद सारस्वत ने बताया दिनांक 11 जुलाई 2021 रविवार को सुबह 11 बजे पदमपुर के गणेशम रिसोर्ट में भाजपा जिला कार्यसमिति (जिला श्रीगंगानगर) द्वारा एक बैठक रखी गयी थी। इस बैठक का उद्देश्य प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा चलाये जा रहे 18 से 44 वर्ष के मुफ्त covid-19 वैक्सीनेशन अभियान का प्रचार प्रसार व आगामी कार्यक्रमों की तैयारी के लिए जिले के चुनिंदा जनप्रतिनिधियों व वरिष्ठ पदाधिकारियों को आमंत्रित किया गया था। बैठक की सूचना पूर्व ही प्रशासन व पुलिस अधिकारियों को दे दी गयी थी। Covid गाइडलाइन की पालना करते हुए बैठक शुरू करने की तैयारी की जा रही थी। इतने में कुछ कांग्रेस व कामरेड के कार्यकर्ताओं ने उपद्रवियों के साथ मिलकर हमारे आमंत्रित प्रतिनिधियों जिनमें श्री माधव राम चौधरी (प्रदेश उपाध्यक्ष भाजपा व संभाग प्रभारी), श्री बिहारी लाल जी बिश्नोई (विधायक एंव श्रीगंगानगर जिला प्रभारी), श्री राम प्रताप कासनियां (विधायक सूरतगढ़), श्रीमती शिमला बावरी (विधायक अनूपगढ़), श्रीमती चेष्टा सरदाना (महिला मोर्चा जिला अध्यक्ष), श्री मति राजकी बाई नायक, श्रीमती पूजा बावरी, श्री मति विनीता आहूजा (प्रदेश उपाध्यक्ष-महिला मोर्चा) को रस्ते में रोका गया और इन्हे बंधक बनाया गया। यहाँ तक महिलाओं के साथ अभद्रता की गयी। पुलिस की उपस्थिति में भारतीय जनता पार्टी की महिला कार्यकर्ताओं के साथ अश्लीलता की तमाम हदें पार कर दी गयी। किसानों के नाम पर कांग्रेस व कामरेड के गुंडों ने जिस प्रकार का तांडव फैलाया उससे अनेकों महिलाओं को चोट लगी कई महिलाओं के फ्रैक्चर हुए। अनेकों महिलाये भगदड़ में बेहोश होकर गिर पड़ी।

एक महिला कार्यकर्ता श्रीमती रजनी बाई नायक और श्रीमती पूजा बावरी के कपडे तक फाड़ दिए गए और इनके साथ अश्लीलता की गयी। श्रीमती चेष्टा सरदाना (महिला मोर्चा जिला अध्यक्ष) के तो इतनी गंभीर चोट लगी के उन्हें हस्पताल में भर्ती करवाना पड़ा जो आज भी हस्पताल में ही है। यहाँ तक की इन उपद्रवियों ने विधायक बिहारी जी के कपडे तक फाड़ दिए। इस पूरे घटनाक्रम की FIR पदमपुर थाने में दर्ज हुई है।

 

जिलाध्यक्ष सारस्वत ने बताया कि यह एक अत्यंत निंदनीय घटना है और जिसका हम खुला विरोध करते है । शहर में इस तरह की घटना का होना यह बताता है कि शहर की सुरक्षा एक गंभीर विषय बन गया है। सरकार समाज के सेवा करने के लिए होती है परन्तु ये कांग्रेस सरकार सत्ता के नशे में इतनी मगरूर हो गयी है कि ये सरकार अपनी माताओं, बहनों, और बेटियों का सम्मान करना ही भूल गयी है। इस प्रकार खुलेआम गुंडागर्दी हम कभी बर्दाश्त नहीं करेंगे और इस सरकार को सत्ता में रहने का अब कोई हक़ नहीं है।

श्री अखिलेश प्रताप सिंह (जिला अध्यक्ष शहर) ने कहा कि यह स्पष्ट हो गया है कि यह आमजन की सरकार नहीं है यह सिर्फ गुंडों की सरकार है। यह भोलेभाले किसानो के नाम का सहारा लेकर शहर में अराजकता फैला रही है। लोकतंत्र में इनकी ये तानाशाही अब नहीं चलने देंगे। आम जनता की उम्मीदे सरकार से टूट चुकी है और इस सरकार को सत्ता में बने रहने का कोई हक़ नहीं है।

इस घटना के विरोध स्वरूप आज खाजूवाला विधानसभा उपखण्ड छतरगढ मे नोखा विधानसभा में नोखा उपखण्ड अधिकारी को व श्रीडूंगरगढ़ विधानसभा में श्रीडूंगरगढ़ उपखण्ड अधिकारी को राज्यपाल के नाम उपखण्ड अधिकारी को भाजपा कार्यकर्ताओं ने ज्ञापन सौंपा।